गजनी: अफगानिस्तान के एक प्रांतीय राजधानी शहर में तालिबान के आतंकवादियों ने हमला कर दिया जिसमें कम से कम एक अफगान सैनिक की मौत हो गई है. जबकि जवाबी हमले में कई तालिबान लड़ाके मारे गए हैं. हालांकि संघर्ष अभी जारी है. वहीँ सूत्रों के मुताबिक समूह ने कहा है कि अब तक दुश्मन बल के 140 लोग या तो मारे गए हैं अथवा घायल हुए हैं.

प्रांतीय गवर्नर के प्रवक्ता आरिफ नूरी ने बताया कि देश के दक्षिण पश्चिम शहर गजनी में जारी इस लड़ाई में एक अफगान सैनिक की मौत हो गई जबकि सात अन्य घायल हो गए हैं. प्रवक्ता ने बताया कि नगरिक घरों और सैन्य चेकपोस्टों पर मोर्टार से हमले हुए हैं. दर्जनों तालिबान लड़ाकों के शव सड़कों पर पड़े हैं.

स्थानीय नागरिक ने फेसबुक पर साझा किया “डर”

प्रांतीय पुलिस प्रमुख फरीद अहमद मशाल ने बताया कि तालिबान ने गुरूवार को शहर के आस-पास विभिन्न स्थानों पर हमला कर दिया था. एक स्थानीय निवासी यसन ने सोशल मीडिया पर अपना डर साझा करते हुए वहां के हालात बयां किए हैं. उन्होंने बताया कि तालिबान लड़ाकों ने मस्जिद में लगे लाउडस्पीकर से घोषणा की कि लोग अपने-अपने घरों को छोड़कर बाहर आ जाएं.

स्थानीय निवासी यसन ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा है, ‘‘जबरदस्त विस्फोटों और बंदूक चलने की आवाज सुनी जा सकती है. हमलोग आतंकित हैं.’’ एक सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि शहर में तालिबान को आगे बढ़ने से रोकने के लिए भारी संख्या में पुलिस के विशेष बलों की तैनाती की गई है. इस बीच तालिबान ने एक बयान जारी कर कहा है कि उसने शहर की अधिकतर सरकारी इमारतों पर कब्जा कर लिया है. समूह ने कहा है कि अब तक दुश्मन बल के 140 लोग या तो मारे गए हैं अथवा घायल हुए हैं.