अब बीमा पॉलिसी का प्रीमियम भी हो जायेगा महंगा

हिन्द न्यूज़ डेस्क। अप्रैल 2017 में  बीमा पॉलिसी का प्रीमियम महंगा हो सकता है.  दरअसल, बीमा नियामक इरडा ने कंपनियों की ओर से एजेंट को दिए जाने वाले कमीशन को दो फीसदी से बढ़ाकर 40 फीसदी तक करने के प्रस्ताव को सार्वजनिक कर दिया है.

18_11_2013-lifeinsurance18

वर्तमान समय में सबसे सस्ता माने जाने वाले टर्म रेगूलर प्लान में पहले साल कमीशन दो फीसदी है जो बढ़कर 40 फीसदी हो जाएगा. इसी तरह सिंगल प्रीमियम वाले टर्म प्लान में कमीशन दो से बढ़कर 7.5 फीसदी हो जाएगा. हालांकि, निवेश से जुड़ी बीमा पॉलिसी पर कमीशन को दो फीसदी पर ही रखने का फैसला किया गया है.

यह भी पढें लो अब चाय हटायेगी चश्मा !

पॉलिसी को हर साल रिन्यू कराना पड़ता है. अब हर साल इसके लिए 7.5 फीसदी की मानक दर से कमीशन लगेगा.  जबकि वर्तमान में इसके लिए दूसरे और तीसरे साल 7.5 फीसदी एवं उसके बाद पांच फीसदी कमीशन लगता था.

यह भी पढें अब फेसबुक भी करेगा राजनीति !

वहीं रेगुलर टर्म प्लान के मामले में 10 फीसदी कमीशन लगेगा. इंडिया फस्र्ट लाइफ इंश्योरेंस कंपनी के सीएमडी आर.एम. विशाखा का कहना है कि इससे पॉलिसी बीच में खत्म होने की संख्या घटेगी.

नए नियम के अनुसार स्वास्थ्य बीमा में सामान्य बीमाधारकों के मामले में कमीशन 15 से 17.5 फीसदी के बीच होगा. वर्तमान में सरकारी बीमा कंपनियां 7.5 फीसदी कमीशन एजेंट को देती हैं।

हालांकि, नियोक्ताओं द्वारा दिए जाने वाले समूह बीमा में अधिकतम कनीशन 7.5 फीसदी रहेगा.

इरडा ने स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी में नई श्रेणी की पॉलिसी देने और उसके लिए कमीशन भी तय कर दिया है. अब कर्ज की गारंटी वाली पांच साल की क्रेडिट लिंक्ड स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी भी मिलेगी. आपके स्वास्थ्य के आधार पर कर्ज के जोखिम की गारंटी होगी. कमीशन अधिकतम 15 फीसदी होगा.

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com