अमृतसर हादसा: जब लोगों के खून से निशान से भरी ट्रेन पहुंची जालंधर, पहियों पर चिपके मिले लोगों के कपड़े

 शुक्रवार के दिन दशहरे का त्योहार देश भर में बड़े उत्साह और श्रृद्धा के साथ मनाया जा रहा था. लेकिन देश के पंजाब राज्य के अमृतसर में दशहरे के दिन हुए एक बड़े हादसे ने दशहरे के दिन को मातम में बदल दिया. अमृतसर में रेलवे ट्रैक के पास रावण दहन हो रहा था कि तभी ट्रैक से ट्रेन गुजरी और पटरियों पर खड़े कई लोग उसकी चपेट में आ गए. दुर्घटना की वीडियो फुटेज सामने आई है जिसमें दिख रहा है कि जब ये हादसा हुआ तब कई लोग कार्यक्रम की अपने मोबाइल से वीडियो बना रहे थे.

इस हादसे के बाद हादसे के बाद जब ट्रेन जालंधर पहुंची तो उसकी हालात ऐसी थी जो किसी का भी दिल दहला देने के लिए काफी था. ट्रेन के इंजन में और गाड़ी के कई हिस्सों पर खून के निशान थे तो गाड़ी के पहियों पर लोगों के कपड़े चिपके मिले. अमृतसर के पास शुक्रवार शाम रावण दहन देखने के लिए रेल पटरियों पर खड़े लोग ट्रेन की चपेट में आने से 60 से ज्‍यादा लोगों की मौत हो गई, जबकि 72 अन्य घायल हो गए. 

कैसे हुआ इतना बड़ा हादसा 

रावण दहन के बाद भीड़ में से कुछ लोग रेल पटरियों की ओर बढ़ने लगे, जहां पहले से ही बड़ी संख्या में लोग खड़े होकर रावण दहन देख रहे थे. उसी वक्त दो विपरीत दिशाओं से एक साथ दो ट्रेनें आईं और लोगों को बचने का बहुत कम समय मिला. इस घटना के बाद मौके पर चीख-पुकार मच गई, बदहवास लोग अपने करीबियों को तलाशने लगे. क्षत-विक्षत शव घंटों बाद भी घटनास्थल पर पड़े थे, क्योंकि नाराज लोग प्रशासन को शव हटाने नहीं दे रहे थे. कई शवों की पहचान भी नहीं हो सकी. 

रेलवे को नहीं थी दशहरा कार्यक्रम की सूचना 
बताया जा रहा है कि अमृतसर में दुर्घटना स्थल के पास दशहरा कार्यक्रम करने की सूचना रेलवे को नहीं दी गई थी. रेलवे के एक अधिकारी ने कहा कि दुर्घटना स्थल के पास लोगों का जमा होना अतिक्रमण का स्पष्ट मामला है. वहीं, घटना के बाद पंजाब सरकार ने मृतकों के परिजनों के लिये पांच-पांच लाख रुपये के मुआवजे का भी ऐलान किया है. मुख्यमंत्री ने दुर्घटना में घायल हुए सभी लोगों के लिए मुफ्त इलाज की घोषणा की है. 

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com