अयोध्या विवाद पर तमीज में रहकर दलीलें दें वकील, चिल्लाएं नहीं

हिन्द न्यूज डेस्क| अयोध्या विवाद पर बड़े वकीलों के बिगड़े बोलों से भारत के चीफ जस्टिस भी परेशान हो गए हैं. आखिरकार उनको टोकना पड़ा है. उन्होंने कहा है कि दिल्ली सरकार पर चल रहे विवाद और अयोध्या विवाद पर बोलने वाले वकीलों के तौर-तरीके बेहद खराब हैं. वकीलों को तेज नहीं बोलना चाहिए क्योंकि ऊंची आवाज में बहस किसी भी तरह से बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

 वकील

चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने कहा है अगर वकील ऐसा नहीं कर पाएंगे तो हम इसे रेगुलेट करवाएंगे. उनकी मानें तो कुछ वकील सोचते हैं कि ऊंची आवाज में बात करके वो खुद को सही साबित कर लेंगे, जबकि ऐसा नहीं है. वो सीनियर वकील होने के लिए भी सक्षम नहीं हैं.

फीफा ने भरी हामी, कुवैत फुटबाल संघ पर लगा प्रतिबंध हटा

चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने कहा, दिल्ली सरकार के केस में अगर वरिष्ठ वकील राजीव धवन के तर्क बेहद उद्दंड और खराब थे तो अयोध्या विवाद में कुछ सीनियर वकीलों का लहजा और भी अधिक खराब था.इन दोनों केस में वकीलों के बेकार और उद्दंड तर्कों के बारे में जितना कम कहा जाए उतना ही ठीक रहेगा.

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com