ओडिशा: कुंडुली गैंगरेप घटना को लेकर कांग्रेस विधायक ने दिया इस्तीफा

भुवनेश्वर: कांग्रेस विधायक कृष्ण चंद्र सागरिया ने कोरापुट जिले की एक कथित सामूहिक बलात्कार पीड़िता के साथ हुए ‘अन्याय’ के विरोध में मंगलवार को ओडिशा विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया. पीड़िता ने इस साल के शुरू में खुदकुशी कर ली थी. कोरापुट जिले के कुंडुली इलाके की 14 वर्षीय एक लड़की ने आरोप लगाया था कि पिछले साल चार लोगों ने उसके साथ बलात्कार किया था. पुलिस ने मेडिकल रिपोर्ट का हवाला देते हुये बलात्कार से इंकार किया था. 22 जनवरी को लड़की ने फांसी लगा कर खुदकुशी कर ली जिसके बाद विभिन्न वर्गों से तीखी प्रतिक्रिया सामने आई.

सागरिया ने कहा कि उन्होंने मंगलवार की सुबह विधानसभा अध्यक्ष पी के अमात से मुलाकात की और उन्हें अपना त्यागपत्र सौंप दिया. वह कोरापुट विधानसभा सीट से विधायक थे. कांग्रेस नेता ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘मैंने ओडिशा विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है क्योंकि मुझे लगता है कि कुंडुली सामूहिक बलात्कार और खुदकुशी की घटना में न्याय सुनिश्चित करने में विफल रहने के बाद एक विधायक के पद पर बने रहने का मुझे कोई नैतिक अधिकार नहीं है.’’ 

आपको बता दें कि पीड़ित बच्ची का कहना था कि उसके साथ चार सुरक्षा गार्डों ने गैंगरेप किया. हालांकि दिसंबर में मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने बच्ची के साथ रेप होने की बात से इनकार किया था. राज्य सरकार ने इस मामले को लेकर न्यायायिक जांच के आदेश दिए थे. कृष्णचंद्र सागरिया ने कहा, ‘जब से बच्ची ने आत्महत्या की थी उसके बाद से मैं बहुत तनाव में था. मै खुद को इस घटना का नैतिक जिम्मेदार मानता हूं क्योंकि मैं यहां का विधायक होने के बावजूद बच्ची को न्याय नहीं दिला पाया. बहुत दुख की बात है कि प्रदेश सरकार और पुलिस ने मिलकर इस मामले को रफा-दफा कर दिया. इसी के चलते मैं इस्तीफा दे रहा हूं.’ 

सागरिया ने यह भी कहा कि विधानसभा अध्यक्ष ने अब तक उनके कदम पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. अमात से तत्काल संपर्क नहीं हो सका है. हालांकि, दलित नेता सागरिया ने स्पष्ट किया कि वह कांग्रेस के लिए काम करते रहेंगे. 

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com