कम अंक हैं तो न हों निराश, एसओएल है बेहतर विकल्प

दिल्ली विश्वविद्यालय के हंसराज कॉलेज में गुरुवार को ओपन डेज का आयोजन किया गया। जहां डीयू के डिप्टी डीन स्टूडेंट वेलफेयर सहित अन्य अधिकारी और कॉलेज के शिक्षकों ने विद्यार्थियों और अभिभावकों की दाखिला संबंधी समस्याओं का समाधान किया। एक छात्र ने पूछा कि मेरा अंक 12वीं में 66 फीसद है। क्या मुझे डीयू के रेगुलर कोर्स में दाखिला मिल सकता है।

इसके जवाब में डीयू के डिप्टी डीन स्टूडेंट वेलफेयर डॉ.जीएस टुटेजा ने कहा कि पहले डीयू के ऑनलाइन पोर्टल पर आवेदन करें। यदि कॉलेज की कटऑफ के अंतर्गत आपका बेस्ट फोर नहीं आता है तो डीयू द्वारा संचालित स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग भी स्नातक दाखिला का एक बेहतर विकल्प है। यहां भी तीन साल की स्नातक डिग्री दी जाएगी लेकिन यह रेगुलर कोर्स नहीं है।

इसी तरह दिल्ली की छात्राओं के लिए एनसीवेब बेहतर विकल्प है। हालांकि इन दोनों में कुछ कोर्स की ही पढ़ाई होती है। एक अन्य छात्रा ने पूछा कि स्पोर्ट्स कोटा के तहत दाखिला लेना चाहती हूं क्या मैं मेरिट बेस्ड के आधार पर पोर्टल पर आवेदन कर सकती हैं। इसके जवाब में डा.टुटेजा ने बताया कि यदि आप स्पोर्ट्स कोटे और मेरिट बेस्ड दोनों माध्यम से आवेदन करना चाहती हैं तो कर सकती हैं। इसके लिए स्पोर्ट्स कोटा में आवेदन के लिए अलग से आवेदन में भुगतान करना होगा।

एक अन्य छात्र ने पूछा कि मेरे अंक 12वीं में 80 फीसद हैं। क्या मैं मनोविज्ञान ऑनर्स में दाखिला ले सकता हूं? कौन सा कॉलेज मनोविज्ञान के लिए बेहतर है? इसके जवाब में विशेषज्ञों ने कहा पहले आपको ऑनलाइन आवेदन फार्म भरना होगा। डीयू के सभी कॉलेज बेहतर हैं। जिस कॉलेज की कटआफ के अंतर्गत आपका अंक आता है वहां जाकर दाखिला ले सकते हैं। डीयू में हंसराज कॉलेज के अलावा 3 जून को राजधानी कॉलेज और 4 जून को आइपी कॉलेज एवं एआरएसडी कॉलेज में ओपन डेज आयोजित होगा।

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com