कोहरे के कोहराम में दिल्ली-एनसीआर समेत पूरा उत्तर भारत, कई ट्रेनों की रफ्तार थमी

हिन्द न्यूज़ डेस्क।  बढ़ते कोहरे ने जहां एक तरफ ठण्ड बढ़ा दी है वहीं दूसरी तरफ सफर करने जा रहे यात्रियों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. क्योंकि कोहरे के आघोष में दिल्ली-एनसीआर समेत पूरा उत्तर भारत आ चुका है. जिससे ट्रेनों ने भी अपनी रफ़्तार पर लगाम लगा दी है.

 

यह भी पढ़ें – दिल्ली में लॉ फर्म के कमरे से 13 करोड़ जब्त, ढाई करोड़ से ज्यादा की नई करंसी

 

dilli-ki-sardi2

कई जगहों पर विजिबिलिटी 100 मीटर से भी कम थी तो कोहरे का असर उड़ानों पर भी पड़ा है। कई उड़ानों की वक्त बदला गया है, जिससे एयरपोर्ट पर भी लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।  दिल्ली आने वाली कई ट्रेनें लेट हुई हैं तो फ्लाइट भी कैंसिल करनी पड़ी।

दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में कोहरे का कोहराम देखने को मिल रहा है। दिल्ली-एनसीआर के ज्यादातर इलाकों में आज सुबह घने कोहरे की वजह से विजिबिलिटी काफी कम हो गई है।

 

यह भी पढ़ें – जब चलती मेट्रो में अचानक उठने लगा धुआं, फैली दहशत

 

रेलवे स्टेशनों पर जो लोग जमे हैं उनकी तकलीफ समझना मुश्किल नहीं है, लेकिन जो लोग सड़कों पर निकलने को मजबूर हैं। उनके लिए कोहरा बेहद खतरनाक है। सड़कों पर मोटरसाइकिल और गाड़ी लेकर निकलना खतरे से खाली नहीं है। लोगों को ठंड का एहसास हो उससे पहले ही दिक्कतों का एहसास ज्यादा होने लगता है।

4247532448_33f0102938_z

घने कोहरे का सबसे ज्यादा असर यातायात की पर पड़ा है। ट्रेन और रेल सेवाएं घने कोहरे के चलते बुरी तरह प्रभावित हुई हैं। सड़कों पर ट्रैफिक रेंग रेंग का चल रहा है। लोगों को बेहद सावधानी से गाड़ियां चलानी पड़ रही हैं। दिल्ली के राजपथ और आरके पुरम में आज सुबह कोहरे की सफेद चादर देखी गई।

 

यह भी पढ़ें – अगले तीन दिन सोच समझकर जाना दिल्ली नही तो…

 

चंडीगढ़ से लेकर दिल्ली तक और दिल्ली से लेकर लखनऊ तक कोहरे ने कोहराम मचाना शुरू कर दिया है। हर तरफ आसमान पर कोहरे की सफेद चादर ढकी है तो तेज हवाओं ने लोगों को ठिठुरने पर मजबूर कर दिया है। यानी सर्दी और कोहरे के साथ ठंड का थर्ड डिग्री टॉर्चर शुरू हो गया है। उत्तर भारत में ठंड की वजह से सबसे ज्यादा असर रेल पर पड़ा है। तमाम शहरों में रेलवे स्टेशनों पर मुसाफिर जमे हुए हैं। किसी की ट्रेन 6 घंटे लेट है तो किसी को अपनी गाड़ी के लिए 15 घंटे इंतजार करना पड़ रहा है।

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com