चेक करें अपनी मेल ID कहीं बंद तो नहीं हो गई

हिन्द न्यूज़ डेस्क। जल्दी चेक करे अपनी मेल  आई.डी  क्योंकि अब कभी भी बंद हो जाएगी आपकी आई.डी  और आपका जरुरी डाटा भी गायब भी हो जायेगा. इसके लिए अब आप लगातार आपनी मेल आई.डी चेक करते रहें.

2017-01-05t170951z_1_lynxmped0414t_rtroptp_3_verizon-yahoo

जानकारी के अनुसार याहू जो की एक सर्च इंजन है जिसका नाम अब बदल दिया गया है अब बहुत जल्द आप भी इस बदले हुए नाम से ही इस सर्च इंजन का उपयोग करेंगे.मशहूर सर्च इंजन कंपनी याहू जिसकी अमेरिकी वायरलेस कम्यूनिकेशन सर्विस प्रदाता वेरीजॉन ने पिछले साल जुलाई में महज 4.8 अरब डॉलर में अधिग्रहण किया था.

यह भी पढ़ें-चीन में लॉन्च हुआ नोकिया 6 एंड्रॉइड स्मार्टफोन

अब जल्द ही “अल्टाबा” इस बदले के नाम से जानी जाएगी. इसके साथ ही याहू के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मैरिसा मेयर के भी कंपनी के बोर्ड से इस्तीफा देने की खबर है. वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट में बताया गया कि वेरिजन के पास बिकने के बाद से याहू के छह निदेशक कंपनी छोड़कर जा चुके हैं, जिसमें मेयर भी शामिल है.

यह भी पढ़ें-सपने ने बनाया करोड़ों का मालिक

वेरिजॉन ने याहू का अधिग्रहण डिजिटल विज्ञापन के क्षेत्र में अपने परिचालन को मजबूत करने के लिए किया है. विशेषज्ञों के मुताबिक वेरिजॉन के लिए व्यावहार्य विकल्प याहू की संपत्तियों को एओएल से नहीं जोड़ना ठीक रहे, जिसका उसने 4.4 अरब डॉलर में अधिग्रहण किया है. एओएल के पास द हफिंगटन पोस्ट और टेक्नॉलिजी वेबसाइट टेकक्रंच और एनगैजेट है और याहू के पास याहू फाइनेंस है.

यह भी पढ़ें-अब फेसबुक भी करेगा राजनीति !

इस तरह से वेरिजॉन के पास अब मजबूत डिजिटल एडवरटाइजिंग मंच हो गया है. वैरिजॉन निश्चित रूप से याहू और एओएल दोनों कंपनियों के परिचालन को अपने हिसाब से बदलेगी ताकि इस सौदे का वह फायदा उठा सके.

फोटो शेयरिंग वेबसाइट फ्लिकर और धीरे-धीरे लोकप्रियता हासिल कर रही माइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट टंबलर याहू की दो संपत्तियां है जिसमें विकास की काफी गुंजाइश है.वेरिजॉन के पास अब टंबलर, फ्लिकर, याहू स्पोर्ट्स और याहू न्यूज है इस तरह से वेरिजॉन के लिए यह सौदा काफी लाभकारी प्रतीत हो रहा है.

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com