तकनीक में कतई पीछे नहीं है हिंदी

पिछले एक दशक में भाषाई तकनीक का लगभग कायाकल्प हो चुका है। मोबाइल, क्लाउड, पर्सनल कम्प्यूटर

और इंटेलिजेंट उपकरणों तक ऐसा कोई क्षेत्र नहीं दिखता, जिसमें हिंदी की उपस्थिति न हो। डाटा एनालिसिस, बिग

डाटा, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आदि तमाम आधुनिकतम क्षेत्रों में हिंदी का अभिनव प्रयोग हो रहा है। साउंड, मशीन ट्रांसलेशन जैसे क्षेत्रों में भी हिंदी मौजूद है लेकिन यदि कमी है, जो ज्यादातर आम उपयोगकर्ताओं तक इनके बारे में जानकारी न पहुंच पाने की। सच तो यह है कि आधुनिक तकनीक के दौर में हिंदी भाषी उपयोगकर्ताओं की चिंताएं हैं, तो उनके समाधान भी हैं।

कई लोग कम्प्यूटर पर हिंदी टाइपिंग को लेकर आशंकित रहते हैं। सच तो यह है कि यह कोई बड़ी बात नहीं है। ऐसे लोगों को चाहिए कि रोज थोड़ा समय निकालकर इनस्क्रिप्ट या ट्रांसलिटरेशन जैसी टाइपिंग पद्धतियां सीख लें।

इनस्क्रिप्ट तो सर्वश्रेष्ठ है क्योंकि यह हर उपकरण, हर ऑपरेटिंग सिस्टम पर उपलब्ध है। आज भी और आगे भी रहेगी। यदि आपने बहुत पहले टाइपराइटर्स के जमाने में रेमिंगटन पद्धति से हिंदी टाइपिंग सीखी है और उसी से

टाइप करना चाहते हैं, तो इंटरनेट पर सर्च करें। कुछ डेवलपर्स ने ऐसे टूल उपलब्ध कराए हैं, जिनके जरिए आप कम्प्यूटर पर इस पद्धति से भी टाइप कर सकते हैं।

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com