दिल्ली: बदमाशों ने की कैश वैन लूटने की कोशिश, गार्ड ने सिर में मारी गोली

साउथ ईस्ट दिल्ली के प्रहलादपुर इलाके में शुक्रवार दोपहर उस समय सनसनी फैल गई, जब कैश ले जा रही वैन को बदमाशों ने लूटने की कोशिश की. कैश वैन में मौजूद सिक्योरिटी गार्ड बदमाशों से भिड़ गया और उसने बदमाशों पर गोली चला दी.

गोली सीधे एक बदमाश के सिर में जा लगी और उसकी मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दूसरा बदमाश मौके से फरार हो गया.ये पूरी घटना प्रहलादपुर थाने के सामने की है. बताया जा रहा है कि बदरपुर से एमसीडी के कैश कलेक्शन की वैन टाटा सूमो गाड़ी में कैश लेकर बसंतकुंज स्थित ऑफिस ले जा रहे थे. उसी दौरान प्रहलादपुर थाने के सामने दो बदमाशों ने गाड़ी रोककर कैश लूटने की कोशिश. इसी दौरान सिक्योरिटी गार्ड बदमाशों से भिड़ गया और उसने गोली चला दी.

हालांकि, अब तक मरने वाले बदमाश की पहचान नहीं हो सकी है. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है और सीसीटीवी कैमरों की फुटेज के जरिये दूसरे बदमाश का सुराग लगाने में जुटी हुई है. इस घटना से अंदाजा लगाया जा सकता है कि राजधानी दिल्ली में बदमाशों के हौसले कितने बुलंद है और बदमाशों में पुलिस का जरा भी खौफ नहीं है.

दिल्ली पुलिस में तैनात हेड कांस्टेबल हुआ लापता, नहर के पास मिली कार

वहीं, दिल्ली पुलिस में हेड कांस्टेबल पद पर तैनात धर्मवीर शर्मा पिछले 3 दिन से लापता हैं. जिस कार से वह लापता होने से पहले घर से निकले थे, वह कोंडली नहर के पास से बरामद हुई है. धर्मवीर के परिवार का रो-रोकर बुरा हाल है. परिजनों का आरोप है कि धर्मवीर की अपरहण किया गया है.

सेकेंड बटालियन में तैनात 50 वर्षीय धर्मवीर शर्मा परिवार के साथ कोंडली इलाके में रहते हैं. उनके घर में पोता हुआ है. 9 मई को घर में पार्टी की तैयारियां जोरों से चल रही थी. मंगलवार रात करीब 11:30 बजे किसी काम के लिए जाने का बोलकर धर्मवीर घर से अपनी कार से निकले थे, लेकिन सुबह तक वह नहीं लौटे. दूसरे दिन उन्हें कॉल किया गया तो फोन नहीं उठाया. तब  परिजनों ने सेकेंड बटालियन से पता किया तो पता चला कि वे ड्यूटी पर ही नहीं पहुंचे.

हेड कांस्टेबल धर्मवीर शर्मा

इस बीच गुरुवार तड़के धर्मवीर की कार कोंडली नहर किनारे मिलने की जानकरी घरवाले को  मिली. परिजनों ने मौके पर पहुंचकर देखा तो कार लावारिस हालत में खड़ी थी, लेकिन धर्मवीर का कोई पता नहीं था. पर‍िजनों ने मामले की शिकायत न्यू अशोक नगर थाना पुलिस में की है, जिसके बाद पुलिस ने कार कब्जे में ले ली है.

हालांकि अब तक पुलिस को धर्मवीर का सुराग नहीं मिल पाया है. परिजनों का आरोप है कि कुछ साल पहले उनके किराएदार ने उनके मकान पर कब्जा कर उसपर करीब 2 करोड़ 75 लाख का लोन ले लिया था. यह मामला कोर्ट में चल रहा है. इस मामले को लेकर धर्मवीर पर गाजियाबाद में जानलेवा हमला हुआ था. परिजनों का आरोप है कि इन्हीं लोगों ने धर्मवीर का किडनैप किया है. फिलहाल पुलिस जांच में जुटी है. आला अधिकारी कुछ भी कहने से बच रहे हैं.

loading...
error: Content is protected !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com