पटियाला के चाट वाले के पास मिले 1.20 करोड़ रुपये, लुधियाना का पकौड़े वाला छूटा पीछे

आयकर विभाग की छापेमारी के बाद पंजाब के पटियाला शहर के फोकल प्वाइंट स्थित रिंकू चाट ने 1 करोड़ 20 लाख रुपये सरेंडर किए हैं. दस्तावेजों की जांच के बाद मालिक मनोज ने 1.12 करोड़ रुपए सरेंडर किए. सूत्रों के मुताबिक रिंकू चाट वर्ल्ड की ओर से कोई रिटर्न नहीं भरी जा रही थी. इससे पहले लुधियाना के पन्नू पकौड़े वाले ने आयकर विभाग की कार्रवाई में 60 लाख रुपए सरेंडर किए थे जिसकी पूरे देश में चर्चा हुई थी. 

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, चाट वाले ने दो पार्टी हॉल बना रखे थे और किसी समारोह में चाट मुहैया कराने के लिए 2.5 से 3 लाख रुपये तक चार्ज करता था. अधिकारियों का कहना है कि टैक्स चोरी की रकम और बढ़ सकती है क्योंकि खरीद-बिक्री का ज्यादातर कोई रिकॉर्ड नहीं रखा गया है. 

पटियाला का चाट वाला कैटरर का काम भी करता है. अघोषित आय का खुलासा करने के बाद अब चाट वाले को करीब 52 लाख रुपये का टैक्स देना होगा. आयकर विभाग की टीम ने बुधवार को सर्वे शुरू किया था. पटियाला में उसकी फैक्टरी है. टीम लुधियाना-3 और पटियाला कमिश्नरी के प्रमुख आयुक्त परनीत सचदेव की अगुवाई में सर्वे कर रही थी. जांच में सामने आया कि चाट वाले ने दो सालों से आईटीआर फाइल नहीं किया और आमदनी के बड़े हिस्से को गुप्त रखा.  

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, रिंकू चाट वर्ल्ड का मालिक मनोज वर्ष 2000 से पहले चाट कारीगर था. इसके बाद उसने दुकान लेकर खुद का कारोबार शुरू किया. चाट के साथ कैटरिंग का कारोबार भी शुरू किया. अपने बैंक्वेट हॉल डाल लिए और शादी समारोह व कारपोरेट फंक्शन के ऑर्डर बुक कर खासा ब्रांड तक तैयार कर लिया लेकिन आय का कोई हिसाब-किताब नहीं रखा. पिछले दो वर्षों से आईटीआर भी फाइल नहीं किया. 

लुधियाना के पकौड़े वाले से वसूले थे 60 लाख
इससे पहले, अक्टूबर माह की शुरुआत में आयकर विभाग ने लुधियाना के पन्नू सिंह पकौड़ेवाले के यहां से छापेमारी करके 60 लाख रुपये वसूल किए थे. पान सिंह पकौड़ा शॉप अपने स्वाद के लिए सिर्फ लुधियाना ही नहीं, बल्कि पूरे पंजाब में मशहूर है. आयकर विभाग ने उनकी दो दुकानों पर छापा मारा था. आयकर विभाग को खबर मिली थी कि दुकान मालिक रिटर्न में अपनी वास्तविक आमदनी को छुपा रहा है. इसके बाद प्रधान आयुक्त डीएस चौधरी के निर्देशन में छाप मारा गया. आयकर विभाग की टीम ने हिसाब किताब रखने वाले सभी रजिस्टर को जब्त किया ही, साथ ही दिन भर दुकान में बैठकर बिक्री का जायजा भी लिया था. 

आयकर विभाग की टीम ने पन्नू पकौड़ेवाले की वार्षिक आमदनी का उसके वार्षिक रिटर्न से मिलान किया गया तो पता चला कि आमदनी को बहुत कम दिखाया जा रहा है. पूरी कार्रवाई दो दिन तक चली थी. कार्रवाई गिल रोड और मॉडल टाउन स्थित दोनों दुकानों पर की गई थी. 

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com