Breaking News

प्रधानमंत्री जन धन खातों में कुल जमा जल्द ही 90,000 करोड़ रुपये के स्तर को पार कर सकती है है

प्रधानमंत्री जन धन खातों में कुल जमा जल्द ही 90,000 करोड़ रुपये के स्तर को पार कर सकती है है। सरकार की ओर से वित्तीय समावेश वाली इस योजना के तहत दुर्घटना बीमा कवर को दोगुना करके 2 लाख रुपये कर दिया गया है। वित्त मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, मार्च 2017 से जन धन खातों में जमा में तेजी आई है। इन खातों में 30 जनवरी 2019 तक कुल जमा बढ़कर 89,257.57 करोड़ रुपये पर पहुंच गई। जमा में अब भी वृद्धि हो रही है। इससे पहले 23 जनवरी को कुल जमा 88,566.92 करोड़ रुपये थी।

केंद्र सरकार ने सभी परिवारों को बैंकिंग सेवाओं से जोड़ने के उद्देश्य से 28 अगस्त 2014 को प्रधानमंत्री जन धन योजना (पीएमजेडीवाई) शुरुआत की थी। योजना की सफलता से उत्साहित सरकार ने 28 अगस्त 2018 के बाद खोले गए नए खातों के लिए दुर्घटना बीमा कवर को एक लाख रुपये से बढ़ाकर दो लाख रुपये कर दिया गया। वहीं ओवरड्राफ्ट की सीमा को दोगुना करके 10,000 रुपये कर दिया गया है।

हाल के आंकड़ों के मुताबिक, प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत 34.14 करोड़ खाते खोले गए हैं। इन खातों में औसत जमा बढ़कर 2,615 रुपये हो गई, जो कि 25 मार्च 2015 को 1,065 रुपये पर था। इन खातों में 53 फीसद खाते महिलाओं के हैं, जिसमें से 59 फीसद खाते ग्रामीण और अर्ध-शहरी क्षेत्र से है। आंकड़ों के मुताबिक, 27.26 करोड़ खाताधारकों को दुर्घटना बीमा कवर के साथ रुपे डेबिट कार्ड जारी किए गए हैं।

गौरतलब है कि जन-धन योजना की शुरुआत मोदी सरकार ने अगस्त, 2014 में की थी। इसके पहले चरण का अंत अगस्त, 2015 में हो गया था। इस दौरान सरकार का मुख्य मकसद लोगों के सामान्य बैंक खाते खुलवाना और उन्हें रुपये कार्ड से लैस करना था।

loading...
error: Content is protected !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com