फ्लोरिडा में ‘माइकल’ तूफान का कहर, ली एक की जान

नाइजर सीमा के पास सैन्य शिविर पर ‘बोको हराम’ के जिहादियों के हमले में कम से कम सात नाइजीरियाई सैनिक मारे गए हैं. नाइजीरियाई सेना ने बुधवार को ट्विटर पर एक बयान जारी कर कहा कि नाइजीरिया के उत्तरी-पूर्वी बोर्नो राज्य के मेतेले गांव में सोमवार को सेना और इस्लामी जिहादियों के बीच भीषण संघर्ष हुआ, स दौरान सात सैनिक मारे गए और 16 अन्य घायल हो गए.

हालांकि सैन्य और मिलिशिया सूत्रों का कहना है कि घटना में मरने वालों की संख्या इससे कहीं ज्यादा है. वैसे बोर्नों की प्रांतीय राजधानी मैदुगुडी से सेना के एक अन्य अधिकारी ने बताया कि,’सात घंटे तक चले इस संघर्ष में हमने 18 सैनिकों को खोया.’

पहचान गुप्त रखते हुए इस नाइजीरियाई सेना के अधिकारी ने बताया कि हमारे सैनिक बहादुरी से लड़े और ‘बोको हराम’ के जिहादियों को मुंहतोड़ जवाब दिया. जिहादियों के खिलाफ लड़ाई में सेना की मदद करने वाले स्थानीय मिलिशिया का कहना है कि मंगलवार को सैनिकों के 18 शव मोनगुनो शहर लाए गए थे. 

उनके अनुसार नाइजीरियाई सैनिकों और ‘बोको हराम’ के जिहादियों के बीच संघर्ष भीषण काफी भीषण था. यह शाम करीब साढ़े चार बजे शुरू हुआ और रात साढ़े ग्यारह बजे तक चला.

नाइजीरिया में लम्बे समय से आतंरिक गृहयुद्ध चल रहा हैं. इस्लामिक अतिवाद विचारधारा वाला संगठन बोको हराम लम्बे समय से वहां इस्लामिक सत्ता को स्थापित करने के लिए संघर्ष कर रहा हैं. बोको हराम लूट,अपहरण,जबरन धर्म परिवर्तन की वारदातों के अलावा लाखों निर्दोष नाइजीरिया के नागरिको की ह्त्या में संलिप्त रहा है. 

2014 में बोको हराम के आतंकियों ने 276 ईसाई समुदाय की लड़कियों का अपहरण कर लिया था. अफ्रीका के देश नाइजीरिया में बोको हराम का गठन मोहम्मद युसूफ़ ने 2002 में किया था . बोको हराम की अल-कायदा से भी सम्बन्ध होने की भी बात कहीं जाती है. 

इसका आधिकारिक नाम “जमाते एहली सुन्ना लिदावति वल जिहाद”  है. जिसका अरबी में मतलब हुआ, ‘वैसे लोग जो पैगम्बर मोहम्मद की शिक्षा और उनका जेहाद फैलाने के लिए प्रतिबद्ध होते हैं.’

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com