बिटकॉइन की के खिलाफ बैंको ने उठाया ये सख्त कदम

हिन्द न्यूज़ डेस्क| देश के कुछ बड़े बिटकॉइन एक्सचेंजके खातों को कई बैंकों ने सस्पेंड कर दिया है. संदिग्ध ट्रांजैक्शंस को लेकर एसबीआई, एक्सिस, एचडीएफसी, यस बैंक और आईसीआईसीआई बैंक ने कई बिटकॉइन से जुड़े अकाउंट्स बंद किए हैं.मामले की जानकारी रखने वाले तीन सूत्रों ने इसकी जानकारी दी. बैंकों ने संदिग्ध ट्रांजैक्शंस करने वाले एक्सचेंजों के प्रमोटर्स से लोन की रीपेमेंट सुनिश्चित करने के लिए अतिरिक्त गारंटी की मांग की है साथ ही कुछ खातों से पैसा निकालने की अधिकतम सीमा तय की है.

एक सूत्र ने बताया, ‘पिछले महीने से बैंक लोन देने के लिए अतिरिक्त गारंटी मांग रहे हैं।’ बैंक अभी देश के टॉप बिटकॉइन एक्सचेंजों के अकाउंट्स की स्क्रूटनी कर रहे हैं। जेबपे, यूनोकॉन, कॉइनसिक्यॉर और Btcx इंडिया जैसे टॉप बिटकॉइन एक्सचेंजों पर बैंकों ने अपना ऐक्शन शुरू कर दिया है.

मुकेश अंबानी को वित्त वर्ष 2017-18 की तीसरी तिमाही में हुआ छप्पर फाड़ फायदा

यूनोकॉन के प्रमोटर सात्विक विश्वनाथ ने बताया, ‘बैंकों ने कंपनी या प्रमोटर्स को इसकी जानकारी नहीं दी है.’ अन्य एक्सचेंजों और बैंकों ने भी इस बारे में कोई जवाब नहीं दिया है.
भारत में अभी बिटकॉइन को लेकर कन्फ्यूजन बरकरार है. सरकार साफ कर चुकी है कि बिटकॉइन लीगल नहीं और यह पोंजी स्कीम की तरह हो सकता है.

अब उचित मूल्य की दुकानों पर भी मिलेंगे बाबा रामदेव की संस्था पतंजलि के उत्पाद

देश में यह क्रिप्टोकरंसी रेग्युलेटेड नहीं है। इन कंपनियों की स्क्रूटनी करने वाले टैक्स अधिकारियों ने बताया कि देश के टॉप 10 बिटकॉइन एक्सचेंज का कुल रेवन्यू 40 हजार करोड़ रुपये के आसपास हो सकता है. बैंकों ने इन कंपनियों से कहा है कि वे अपने बिजनस के बारे में जानकारी दें और यह बताएं कि उन्होंने अकाउंट खुलवाते समय इसकी जानकारी क्यों नहीं दी थी.

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com