बिहार में इंसेफेलाइटिस के बाद अब डेंगू की दस्तक, PMCH में दो मरीजों के मिलने से हड़कम्‍प

बिहार में हाल ही में एक्‍यूट इंसेेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) से सैकडा़ें बच्‍चों की मौत के बाद अब डेंगू ने दस्‍तक दी है। राजधानी के पटना मेडिकल कॉलेज व अस्‍पताल (पीएमसीएच) में डेंगू के दो मरीजों के मिलने के बाद हड़कम्‍प मच गया है। एहतियातन पीएमसीएच में डेंगू मरीजों के लिए स्पेशल वार्ड बनाया गया है।

पटना में मिले डेंगू के दो मरीज, खतरा बढ़ा

बिहार में भीषण गर्मी के बाद अब बारिश से वातावरण में नमी आ गई है। इससे डेंगू सहित अन्‍य मच्छर जनित बीमारियों का खतरा मंडराने लगा है। पटना में डेंगू के दो मरीजों के मिलने के बाद खतरा बढ़ गया है। बुधवार को पीएमसीएच में दो मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई। पीएमसीएच के वायरोलॉजी विभाग के अध्यक्ष डॉ. सच्चिदानंद कुमार ने बताया कि एक मरीज फतुहा और दूसरा राजधानी के बिहारी साव लेन का है।

पीएमसीएच में बना स्‍पेशल वार्ड

पीएमसीएच के अधीक्षक डॉ.राजीव रंजन प्रसाद ने बताया कि अस्‍पताल प्रशासन डेंगू के इलाज के लिए तैयार है। इसके लिए स्‍पेशल वार्ड बनाया गया है।

बीमारी से बचाव के लिए मच्‍छरों से बचें

विदित हो कि डेंगू बुख़ार डेंगू वायरस के कारण होता है। इस वायरस का संक्रमण मच्छर के काटने से होता है। डेंगू वायरस से बचाव के लिये कोई वैक्सीन उपलब्ध नहीं है। इससे बचने के लिए मच्छरों से बचाव एकमात्र उपाय है।

loading...
error: Content is protected !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com