माइक्रोसॉफ्ट कंपनी पर महिला कर्मचारी ने लगाए यौन उत्पीड़न सहित 238 आरोप, मामला पहुंचा कोर्ट

माइक्रोसॉफ्ट में काम करने वाली एक महिला ने कंपनी के खिलाफ 238 शिकायतें दर्ज की हैं। महिला ने कंपनी पर सैलरी न बढ़ाए जाने से लेकर, प्रमोशन न देने, शारीरिक उत्पीड़न, लिंग के आधार पर होने वाले भेदभाव तक का आरोप लगाया है। शिकायत के 238 मामले 2010 से 2016 तक के हैं। इस पूरे मामले को कोर्ट ने सोमवार को सार्वजनिक कर दिया है।

माइक्रोसॉफ्ट कंपनी पर महिला कर्मचारी ने लगाए यौन उत्पीड़न सहित 238 आरोप

माइक्रोसॉफ्ट पर किए गए मुकदमों का यह आंकड़ा महिला ने खोला है ताकि दुनिया की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनी में महिलाओं के साथ वेतन और पदोन्नति को लेकर हो रहे भेदभाव को सार्वजनिक किया जा सके। जबकि माइक्रोसॉफ्ट ने इस पूरे मामले पर जवाब देने से पल्ला झाड़ लिया है।

यह पूरा मामला सिटेल फेडरल कोर्ट में 2015 में दायर किया गया था। यह मामला खूब चर्चित इसलिए भी हो रहा है क्योंकि इसदौरान कई पावरफुल लोगों को शारीरिक उत्पीड़न मामले में उनकी नौकरी से निकाला गया। इनमें इंटरटेनमेंट, मीडिया और राजनीति से जुड़े लोग शामिल हैं।

यदि यह पूरा मामला आगे बढ़ता है तो इसमें 8000 महिलाएं शामिल हो सकती हैं। कोर्ट की सुनवाई के दौरान दोनों आरोपी और प्रत्यारोपी दस्तावेजों का आदान प्रदान कर रहे हैं। माइक्रोसॉफ्ट पर 118 मामलों में महिलाओं ने लिंग भेदभाव का आरोप लगाते हुए केस दर्ज किया है जिसमें एक मामला ही अभी तक प्रकाश में आ पाया है।

महिलाओं की शिकायतों की सुनवाई कर रही अटॉर्नी ने कहा की कंपनी में महिलाओं के साथ हो रहा भेदभाव चौंकाने वाला है। और यह सब इसलिए है क्योंकि यहां जांच का आभाव है। बता दें कि कंपनियों में अक्सर महिलाओं द्वारा सेक्सुअल हैरेसमेंट की शिकायत की जाती रही है। लेकिन कंपनियां इन शिकायतों को निकलने नहीं देती हैं और दबा देती हैं। माइक्रोसॉफ्ट कंपनी में फिलहाल 74000 अमरीकी कर्मचारी काम कर रहे हैं।

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com