Breaking News

मुन्ना बजरंगी हत्याकांड की सीबीआई जांच की मांग पर इलाहाबाद हाईकोर्ट में सुनवाई आज

यूपी की बागपत जेल में फ़िल्मी अंदाज़ में मौत के घाट उतारे गए पूर्वांचल के माफिया डान मुन्ना बजरंगी के क़त्ल की जांच सीबीआई से कराए जाने की मांग को लेकर दाखिल अर्जी पर इलाहाबाद हाईकोर्ट में आज सुनवाई होगी। यह सुनवाई जस्टिस एसडी सिंह की सिंगल बेंच में दोपहर करीब 2.30 बजे होने की उम्मीद है। सीबीआई जांच की मांग को लेकर अर्जी हाईकोर्ट में मुन्ना बजरंगी की वकील स्वाति अग्रवाल ने दाखिल की है। इस अर्जी में उन्होंने कहा है कि मुन्ना बजरंगी ने पहले ही अपनी जान का खतरा बताते हुए हाईकोर्ट में अर्जी दाखिल कर सुरक्षा मुहैया कराए जाने की मांग की थी, ऐसे में उसकी मौत के पीछे का सच सामने आना ही चाहिए।

अर्जी में यह भी कहा गया है कि यूपी पुलिस की जांच से इंसाफ की उम्मीद नहीं है, इसलिए मर्डर केस की जांच सीबीआई से कराए जाने का आदेश दिया जाना चाहिए। अर्जी में मुन्ना बजरंगी के परिवार को उचित मुआवजा दिए जाने की भी मांग उठाई गई है।बागपत जिला जेल में जुलाई की सुबह पूर्वांचल के माफिया मुन्ना बजरंगी की हत्या की जांच सीबीआई से करवाने वाली याचिका की सुनवाई बुधवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट में होगी। दरअसल, 16 मई को मुन्ना बजरंगी की ओर से सुरक्षा की मांग को लेकर हाईकोर्ट में एक याचिका दाखिल की गई थी। जिसकी सुनवाई नौ जुलाई को होनी थी, लेकिन उसी दिन सुबह जेल में उसकी हत्या कर दी गई। इसके बाद मुन्ना बजरंगी के वकील स्वाति अग्रवाल ने हाईकोर्ट में मेंशन कर अदालत को इसकी जानकारी दी।

एडवोकेट स्वाति अग्रवाल ने कोर्ट से हत्या की इस घटना पर स्वतः संज्ञान लेने की मांग की। उन्होंने कहा कि जेल परिसर में असलहा कैसे पहुंचा, इसकी भी जांच जरूरी है। साथ ही मुन्ना बजरंगी के परिजनों को क्षतिपूर्ति दिलाए जाने की भी मांग कोर्ट से की। अधिवक्ता अग्रवाल ने कोर्ट में कहा कि मुन्ना बजरंगी की हत्या के मामले की सीबीआई से जांच कराई जाए। इसके बाद कोर्ट ने स्वाति अग्रवाल की याचिका स्वीकार करते हुए आज (बुधवार) की तारीख दे दी थी।

इस याचिका की सुनवाई बुधवार को जस्टिस एसडी सिंह की एकलपीठ में होगी। अधिवक्ता स्वाति अग्रवाल के मुताबिक मामले की सीबीआई जांच जरूरी है। उन्होंने कहा कि जेल में असलहा कैसे पहुंचा इसका पता लगाना भी जरूरी है। मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने भी मामले में सीबीआई जांच की मांग की है।

गौरतलब है कि इस याचिका पर हाईकोर्ट में 4 जुलाई को सुनवाई हुई थी। सुनवाई के बाद कोर्ट ने राज्य सरकार के अधिवक्ता से मामले में जानकारी मांगी थी और सुनवाई की अगली तिथि 9 जुलाई तय की थी। लेकिन झांसी जेल से बागपत जेल शिफ्ट किए जाने के बाद ही माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की जेल के अंदर हत्या कर दी गई।

इस बीच कोर्ट ने मुन्ना बजरंगी की हत्या करने वाले गैंगस्टर सुनील राठी को 14 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। पुलिस रिमांड में सुनील राठी से हत्या की वजह पता करेगी। साथ ही यह भी पूछताछ की जाएगी कि जेल में असलहा कैसे पहुंचा? 

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com