मोबाइल का खतरनाक इस्तेमाल, आपको बना न दे ज़िन्दगी भर के लिए पीड़ित

हिन्द न्यूज़ डेस्क| आजकल मोबाइल एक गैजेट से ज्यादा जीवनसाथी का रोल अदा कर रहा है. आप मोबाइल को हर वक़्त इस्तेमाल करते हैं चाहे वह जगह बाथरूम ही क्यों ना हो लेकिन आपको पता है रात में सोते वक़्त इसका इस्तेमाल सबसे खतरनाक हो जाता है. मोबाइल सिर्फ एक गैजेट ही नहीं है हमारी जिंदगी का अहम् हिस्सा बन गाया है जिसके फाइदे तो है पर नुक्सान इतने खतरनाक हैं की आप सोच भी नहीं सकते और आपको हो जाता है ऐसा कुछ जो आपके लिए कैंसर से भी बड़ी बात है. जानिये ऐसा क्या है.

अब टूथ-पेस्ट की मदद से करिए प्रेग्नेंसी टेस्ट, जानिए कैसे

नींद पूरी न होने से होती है याद्दाश्त कमजोर
6-8 घंटे की नींद पूरी न होना न सिर्फ अगले दिन आपके सिरदर्द का कारण बनेगा, बल्कि यह आपकी याद रखने की क्षमता को भी प्रभावित करेगा.

अधूरी नींद रखती है पूरा दिन विचलित. अधूरी नींद आपकी दिनचर्या को प्रभावित करती है. ऐसे में आप अक्सर विचलित रह सकते हैं और आपकी सीखने की क्षमता को भी नींद की कमी प्रभावित करती है.

इन देशों में मिलती हैं ऐसी नौकरियां…जिन्हें सब कहते हैं… “गन्दी बात”

ये आदत ही न बन जाए
लंबे समय तक यदि आप पूरी नींद नहीं ले पा रहे हैं तो इससे शरीर में न्यूरोटॉक्सीन की मात्रा बढ़ जाती है. न्यूरोटॉक्सीन के बढ़ने से नींद आने में कठिनाई होने लगती है.

डिप्रेशन की वजह बन सकती है नींद की कमी
नींद पूरी न होने की वजह से शरीर में मेलाटोनिन की मात्रा बढ़ जाती है, जो डिप्रेशन की बड़ी वजहों में से एक है.

आप भी बन सकते हैं “विक्की डोनर”…जानिये कैसे डोनेट कर सकते हैं स्पर्म

नींद की कमी बढ़ा सकती है मोटापा
अनिद्रा की वजह से शरीर में बढ़ा मेलाटोनिन उन हॉर्मोन को असंतुलित कर देता है, जो भूख को नियंत्रित करते हैं. ऐसे में अनिद्रा की वजह से मोटापा भी बढ़ जाता है.

इसलिए जरूरी है कि मोबाइल से तौबा करें. सोने से करीब एक घंटे पहले मोबाइल दूर रख दें और चैन की नींद सोएं.

loading...
error: Content is protected !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com