ये छोटे-छोटे उपचार मोच और अंदरूनी चोट में दिलाएंगे राहत

हिन्द न्यूज़ डेस्क|  किसी ऊबड़-खाबड़ जगह पर चलने या गड्ढे में अचानक से पैर आने पर मोच या फिर अंदरूनी चोट आ जाती है. मोच आने से उस अंग पर सूजन आ जाती है और काफी दर्द होने लगता है.इस दर्द का सही तरीके से अंदाजा लगाना मुश्किल हो जाता है क्योंकि यह दिखाई तो नहीं देती लेकिन महसूस बहुत होती है. इसलिए हमें मोच या चोट आने पर तुरंत इसे ठीक करने के लिए प्राथमिक उपचार करना चाहिए.चलिए आपको बताते है कि ऐसी स्थिति में कुछ घरेलू उपचार के जरिए कैसे मोच,अंदरूनी चोट एवं सूजन को दूर कर सकते है.

अगर आपको लकड़ी-पत्थर लगने से सूजन आई है तो इसके लिए आप हल्दी एवं खाने का चूना एक साथ पीसकर गर्म लेप लगाए अथवा इमली के पत्तों को उबालकर बांधने से भी सूजन उतर जाती है.

बड़ी रिफाइनरी कंपनी और फ्यूल रिटेलर इंडियन ऑयल को करना पड़ सकता है मुश्किलों का सामना

कभी-कभी कठिन व्यायाम करने पर भी अचानक से मोच आ जाती है.इसके लिए अरनी (एक प्रकार का पौधा) के उबाले हुए पत्तों को किसी भी प्रकार की सूजन पर बांधने से काफी आराम मिलता है.मोच या चोट के कारण यदि खून जम गया हो एवं गांठ पड़ गई हो तो बट के पेड के कोमल पत्तों पर शहद लगाकर बांधने से लाभ होता है.

बच्चों को खेलते समय मोच आ जाए तो मोच के स्थान पर चने बांधकर उन्हें पानी से भिगोते रहें. जैसे-जैसे चने फूलेंगे वैसे-वैसे मोच दूर होती जाएगी, यह एक बेहतरीन इलाज माना गया है.

आईबीएम ने दी जानकारी कौशल विकास से पूरा होगा डिजिटल भारत का सपना

मोच के कारण आई सूजन के दूर करने के लिए गुनगुने पानी में फिटकरी मिलाकर चोट वाले हिस्से पर सिकाई करें.सीढियों से अचानक पैर फिसल जाने के कारण भी अक्सर लोगों को चोट व मोच आ जाती हैं सरसो और हल्दी को गर्म करके उसे मोच वाले स्थान पर लगाए और उस पर एरण्ड के पत्ते को रखकर पट्टी बांध दें. सूजन में करेले का साग खाना भी लाभप्रद माना जाता है.

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com