रखें कुछ बातों का ध्यान और बन जाएं कुबेर के खजाने में हिस्सेदार

आर्थिक तंगी से हैं परेशान, कार्य व्यवसाय का भी है बुराहाल, रोगों पर हो रहे हैं खर्चे हजार अब न रहेगा जीवन में कोई तूफान बन सकते हैं आप कुबेर के खजाने में हिस्सेदार। शास्त्रों के अनुसार धन प्राप्ति के लिए देवी महालक्ष्मी की आराधना की जानी चाहिए। महादेवी के साथ ही धन के देवता कुबेर देव को पूजने से भी पैसों से जुड़ी समस्याएं दूर हो जाती हैं। इसी वजह से किसी भी देवी-देवता के पूजन के साथ ही इनका भी पूजन करना बहुत लाभदायक होता है। 

* घर में गंदगी फैली रहे साफ-सफाई न हो तो ऐसे घर में लक्ष्मी प्रवेश नहीं करती और कुबेर देव अपने साथ ही खजाने की चाबी वापिस ले जाते हैं। 

* उत्तर दिशा को कुबेर का स्थान माना जाता है। इस स्थान को जितना हो सके खाली रखें और प्रतिदिन सुबह पानी से धोकर साफ करें। फिर तांबे के बर्तन में गंगा जल लेकर उत्तर दिशा और तिजोरी में छिड़काव करें, इस उपाय से कुबेर के स्वागत की तैयारी होती है।

* घर की झाड़ू को सीधा, लिटाकर और सदा छुपाकर रखें, उस पर कभी भी न तो घर के सदस्यों की नजर पड़े और न ही बाहर वालों की।  प्रत्यक्ष और सीधी खड़ी झाड़ू धन ही नहीं घर-परिवार के विनाश का भी प्रतीक मानी जाती है। 

* ॐ श्री ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं ॐ महालक्ष्मयै नमः। इस मंत्र की कमलगट्टे की माला से प्रतिदिन जप करने से ऋणमुक्ति होती है।

* मां लक्ष्मी की प्रतिमा के सामने 11 दिनों तक अखंड ज्योत (तेल का दीपक) प्रज्ज्वलित करें। 11वें दिन 11 कन्या को भोजन कराकर एक सिक्का व मेहंदी दें।

loading...
error: Content is protected !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com