राजस्थान बोर्ड ने बदले नियम, अब यूं नहीं होगा स्टूडेंट का चयन

हिन्द न्यूज डेस्क । जहां बोर्ड परीक्षाओं में पास होने पर स्टूडेंट को ग्रेड दिया जाता था और मैरिट के आधार पर छात्रों का चयन होता था तो वहीं राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने नई नीति को लागू करते हुए बच्चों को प्रोत्साहन देने के लिए पुरस्कृत करेगी.

साइंटिस्ट बनना चाहते हैं तो झट से करें आवेदन, निकली कई पदों पर वैकेंसी

12वीं पास हैं तो बस कर दें यहां आवेदन, बढ़िया है जॉब

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Rajasthan Board of Secondary Education – RBSE) इस वर्ष से बोर्ड परीक्षा की मेरिट लिस्ट जारी नहीं केरगा. ऐसा पहली बार होगा जब बोर्ड ये लिस्ट जारी नहीं करेगा. अब बोर्ड दीक्षांत समारोह में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाले प्रथम तीन विद्यार्थियों को पदक देगा. अब 10वीं 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं में प्रथम स्थान पर रहने वाले को स्वर्ण पदक, द्वितीय एवं तृतीय को रजत पदक दिए जाएंगे.

ये प्रस्ताव बोर्ड प्रबंध मंडल की शनिवार को हुई बैठक में स्वीकार किया गया. दरअसल बोर्ड के समक्ष मेरिट लिस्ट तय करने की व्यवस्था में कई दिक्कतें आ रही थीं और इसे घोषित किए जाने से छात्रों पर अनावश्यक दबाव बढ़ता है. ऐसे में बोर्ड ने इसे रोकना उचित समझा.

हालांकि छात्रों को छात्रवृत्तियों, लेपटॉप व अन्य योजनाओं का लाभ देने के लिए बोर्ड सरकार को अंकों की सूची उपलब्ध कराएगा.

अब इस बीमारी को पता लगाने के लिए डॉक्टर की नहीं पड़ेगी जरूरत, वो कैसे..! देखें

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com