GST ने बिगाड़ा दिवाली बाजार का खेल, कम हुई सामान की बिक्री

हिन्द न्यूज़ डेस्क।  दिवाली का त्यौहार आते ही बाजार में हलचल शुरु हो जाती है. लोग धनतेरस वाले दिन से ही बाजार में खरीदारी शुरू कर देते है और सोने चांदी से लेकर कई सामानों की खरीददारी  धड़ल्ले से शुरू होती है. लेकिन इस बार सरकार की जीएसटी के आगे बाजार पूरी तरह से घुटने टेक चुका था. खुदरा कारोबारियों के संगठन कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) का कहना है कि इस साल नोटबंदी और GST के कारण कारोबार में पिछले साल की तुलना में 40 प्रतिशत की गिरावट आई. सरकार के इस नियम ने इस साल की दिवाली  बाजार का बुरा हाल कर दिया.

आधार को बैंक से लिंक कराने को लेकर आरटीआई ने किया बड़ा खुलासा

 

J&K: हंदवाड़ा में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़, लश्कर का एक आतंकी ढेर

इस दृष्टि से यह ‘पिछले 10 सालों की सबसे खराब दीपावली रही’. कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया और महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि बाजारों में उपभोक्ताओं की कम उपस्थिति, सीमित खर्च आदि इस दीपावली कारोबार कम रहने के मुख्य कारण हैं.कैट ने कहा कि देश में सालाना करीब 40 लाख करोड़ रुपये का खुदरा कारोबार होता है. इसमें संगठित क्षेत्र की हिस्सेदारी महज 5 फीसदी है. वहीं, शेष 95% योगदान असंगठित क्षेत्र का है. दीपावली के 10 दिन पहले से शुरू होने वाली त्योहारी बिक्री पिछले सालों में करीब 50 हजार करोड़ रुपये की रही है.

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com