MBBS का पेपर आउट, पांच मेडिकल कॉलेजों में चल रहीं सारी परीक्षाएं रद्द

हिन्द न्यूज़ डेस्क| एमबीबीएस का पेपर आउट होने के बाद चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय ने पांच मेडिकल कॉलेजों में चल रहीं सारी परीक्षाएं रद्द कर दी हैं. शासन को पूरे मामले से अवगत कराने के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन की तरफ से मेडिकल थाने में मुकदमा दर्ज कराया है. कुलपति प्रो. एनके तनेजा ने प्रो वाइस चांसलर की अध्यक्षता में उच्चस्तरीय जांच कमेटी गठित की है.

विश्वविद्यालय अब नए पेपर छपवाकर परीक्षा कराएगा. मामले की गंभीरता को देखते हुए पहले हुए पेपरों को भी रद्द किया जा सकता है. एमबीबीएस के पांच कॉलेजों में पांच फरवरी से सेकेंड और थर्ड ईयर की परीक्षाएं चल रही हैं. इनमें मेरठ का लाला लाजपतराय मेडिकल कॉलेज, सहारनपुर का गर्वमेंट मेडिकल कॉलेज, पिलखुवा का रामा मेडिकल कॉलेज, हापुड़ का सरस्वती मेडिकल कॉलेज और मुजफ्फरनगर का मेडिकल कॉलेज शामिल है. सेकेंड और थर्ड ईयर की परीक्षाएं चल रही हैं.  लाला लाजपतराय कॉलेज में सेल्फ सेंटर है. सहारनपुर के गर्वमेंट कॉलेज का भी सेल्फ सेंटर है। पिलखुवा के रामा मेडिकल कॉलेज का सेंटर एडेड कॉलेज आरएसएस पिलखुवा, सरस्वती मेडिकल कॉलेज हापुड़ का सेंटर एमएम डिग्री कॉलेज मोदीनगर और मुजफ्फरनगर मेडिकल कॉलेज का सेंटर जैन कन्या पीजी कॉलेज मुजफ्फरनगर में बनाया गया है.
सेकेंड ईयर के फर्स्ट ओर सेकेंड पार्ट के तीन पेपर कोड 201, 202 और 203 हो चुके हैं और थर्ड ईयर के  कोड 101 और कोड 102 के दो पेपर हो चुके हैं. रविवार शाम विश्वविद्यालय के अधिकारियों के पास व्हाट्स एप पर कुछ सवाल भेजकर थर्ड ईयर के सेकेंड पार्ट सर्जरी का पेपर आउट होने की बात कही गई थी. इसको लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन ने सोमवार को होने वाली थर्ड ईयर के पार्ट टू का पेपर रद कर दिया था.
सोमवार को कुलपति ने इस मामले में प्रो वाइस चांसलर प्रो. एचएस सिंह और परीक्षा नियंत्रक नारायण प्रसाद की कमेटी बनाकर कॉलेजों से सारे पेपर मंगवा लिए. कमेटी ने जांच की तो व्हाट्स एप पर दिए गए सवाल पेपर से मेल खा गए. जिसके बाद कुलपति प्रो. एनके तनेजा ने शाम को आपात बैठक बुलाते हुए आंतरिक कमेटी का गठन कर दिया. इसमें प्रो वाइस चांसलर प्रो. एचएस सिंह, प्रो. वाई विमला और प्रो. बीरपाल को जांच देते हुए एमबीबीएस की सारी परीक्षाएं रद कर दीं.

आंध्र प्रदेश टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट का एडमिट कार्ड हुआ जारी, ऐसे करें डाउनलोड

परीक्षा नियंत्रक नारायण प्रसाद ने बताया कि मेडिकल थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है. कुलपति की तरफ से शासन को पूरे मामले से अवगत करा दिया गया है. प्रो वाइस चांसलर प्रो. एचएस सिंह ने बताया कि अब दोबारा से नए पेपर छपवाने के बाद फिर से परीक्षाएं कराई जाएंगी. रोजाना पेपर अतिरिक्त सुरक्षा के बीच कॉलेजों में पहुंचाए जाएंगे.

loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com